About Saurabh Shah

Saurabh Shah

Saurabh Shah

સૌરભ શાહ

Saurabh Shah

14 April 1960

Author of 9 books including ‘Ekatris Suvarna Mudrao’, ‘Sambandho nun Management’ and ‘Ayodhya thi Godhara’.

Editor: ‘Vichardhara’ weekly.

Novels: Ver-Vaibhav, Uttarardh, Maharaj, Janmojanam and Dharmandh

contact: HiSaurabhShah@gmail.com

Mumbai, India.

 

maharaj600

આ બ્લોગ ગમ્યો? ફેસબુક મિત્રો સાથે શૅર કરો!

શે’ર બજાર

दिलों में तुम अपनी बेताबियाँ लेके चल रहे हो
तो ज़िन्दा हो तुम
नज़र में ख्वाबों की बिजलियाँ लेके चल रहे हो
तो ज़िन्दा हो तुम
हवा के झोंको के जैसे आझाद रहना सीखो
तुम एक दरिया के जैसे लेहेरों में बेहना सीखो
हर एक लम्हे से तुम मिलो खोले अपनी बाहें
हर एक पल एक नया समा देखे ये निगाहें
जो अपनी आँखों में हैरानियाँ लेके चल रहे हो तुम
तो ज़िन्दा हो तुम
-जावेद अख्तर
(झिंदगी मिलेगी ना दोबारा)

આપના પ્રતિભાવ

સૌરભ શાહ સાથે ફેસબુક પર જોડાઓ!

Powered By Indic IME